ISRO ने PSLV-C52 Mission Launch किया, जाने इसकी खासियत

Spread the love

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो(ISRO) ने सोमवार 14/02/2022 को अपना PSLV-C52 Mission launch किया। इस मिशन को Satish Dhawan Space Centre, Sriharikota से 05:59 लांच किया गया। यह मिशन पृथ्वी अवलोकन उपग्रह(EOS-04) की परिक्रमा करेगा। इसरो के इस मिशन में दो अन्य उपग्रहों को भी साथ में लांच किया जायेगा, भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान (IIST) के छात्रों द्वारा बिकसित एक उपग्रह(Satellite) तथा इसरो का एक प्रौद्योगिकी प्रदर्शक उपग्रह भी शामिल है।

ISRO ने PSLV-C52 Mission Launch किया, EOS-04 Satellite
ISRO का PSLV-C52/EOS-04 Mission लॉन्च

ISRO ने अपना PSLV-C52 Mission Launch किया इसके बारे में:-

PSLV-C52 को पृथ्वी अवलोकन उपग्रह (EOS-04) की परिक्रमा करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिसका वजन 1710 किलोग्राम है, जो 529 किमी की सूर्य तुल्यकालिक ध्रुवीय कक्षा में है। यह पृथ्वी अवलोकन उपग्रह की परिक्रमा करेगा, इसे 14 फरवरी की Satish Dhawan Space Centre, Sriharikota से 05:59 बजे लांच किया गया।

PSLV-C52 मिशन सह-यात्रियों के रूप में दो छोटे उपग्रहों को भी ले जाएगा जिसमें कोलोराडो विश्वविद्यालय, बोल्डर में वायुमंडलीय और अंतरिक्ष भौतिकी की प्रयोगशाला के सहयोग से भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान (IIST) से एक छात्र उपग्रह (INSPIREsat-1) शामिल है। इसके अलावां दूसरा उपग्रह इसरो(ISRO) का एक प्रौद्योगिकी प्रदर्शक उपग्रह (INS-2TD) है , जो भारत-भूटान संयुक्त उपग्रह (INS-2B) का अग्रदूत है।

यह भी पढ़ें:-

अमेरिका ने रचा इतिहास बिना पायलट के उड़ाया Black Hawk Helicopter

दिव्यांगजनों और वरिष्ठ नागरिकों के लिए ‘SamajikAdhikaritaShivir’ और ‘एक एकीकृत मोबाइल सेवा वितरण वैन’ लॉन्च

ISRO के इस मिशन का उद्देश्य:-

PSLV-C52 Mission Launch के लॉन्च होने का मुख्या उदेश्य EOS-04 Satellite का परिक्रमा करना है, जो सूर्य तुल्यकालिक कक्षा में एक पृथ्वी अवलोकन उपग्रह है, इसके साथ ही इसका काम दो अन्य उपग्रहों को उनकी कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित करना है, जिनको यह अपने साथ ले जा रहा है।

EOS-04 Satellite क्या है?:-

EOS-04 एक रडार इमेजिंग सैटेलाइट है जिसे कृषि, वानिकी और वृक्षारोपण, मिट्टी की नमी और जल विज्ञान और बाढ़ मानचित्रण जैसे अनुप्रयोगों के लिए सभी मौसम की स्थिति में उच्च गुणवत्ता वाली छवियां प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह Satellite मौसम के पूर्वानुमान के बारे में जानकारी प्रदान करेगा ताकि प्राकृतिक आपदा जैसी परिस्थितियों से बचा जा सके।

Conclusion(निष्कर्ष):-

हमने इस पोस्ट में भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ISRO द्वारा EOS-04 satellite के लिए PSLV-C52 Mission Launch के बारे में बताया। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आती है, तो इस पोस्ट को आगे जरूर शेयर करें और करंट अफेयर तथा एजुकेशन से जुड़े आर्टिकल पढ़ने के लिए वेबसाइट को सब्सक्राइब करके बेल आइकॉन को जरूर दबाये ताकि नए पोस्ट की नोटिफिकेशन आपको मिलती रहे।

Source:- ISRO

इन्हे भी देखें:-

रेटिंग एजेंसी क्या है और वे क्यों मायने रखती हैं?

वैज्ञानिकों ने खोज निकाला सूर्य की तरह नाभिकीय संलयन से ऊर्जा बनाने का तरीका


Spread the love

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.