15 March 2022 से जुड़े सभी Current Affairs- Current Affairs Today

Spread the love

1. सुंदरबन के मैंग्रोव वन के बुनियादी ढांचों को बिकसित करने की मांग- Current Affairs

विस्तार:- पश्चिम बंगाल सरकार अपने पारिस्थितिक खजाने के पर्यटन बुनियादी ढांचे को विकसित करने की मांग कर रही है – सुंदरबन के मैंग्रोव वन, पश्चिम बंगाल के पर्यटन मंत्री इंद्रनील सेन ने हाल ही में विधानसभा में कहा था।

इस क्षेत्र में नई संभावनाओं को पेश करने के लिए निजी क्षेत्र के साथ जुड़ाव में सुधारित बुनियादी ढांचे के मॉडल की योजना बनाई जाएगी, जिसमें दो प्रमुख उद्देश्य पर्यावरण के अनुकूल होटल और मनोरंजन क्षेत्र होंगे।

सेन ने यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार भी बड़े जलाशयों में हाउसबोट स्थापित करने की उम्मीद कर रही है, बहुत कुछ श्रीनगर की डल झील की तरह। उसी के लिए उल्लिखित समयरेखा छह महीने है। वर्तमान में, पश्चिम बंगाल सरकार पर्यटकों को जंगलों से लाने-ले जाने के लिए शहर के साथ-साथ जहाजों से पैकेज टूर की पेशकश करती है।

2. US में सिलिप्सिमोपोडी बाइडेनी प्रजाति खोजा गया

अभी हाल ही में मध्य मोंटाना (यूएस) में खोजा गया सिलिप्सिमोपोडी बाइडेनी नामक प्रजाति का एक जीवाश्म वर्तमान ऑक्टोपस के सबसे पुराने-ज्ञात संबंधी का प्रतिनिधित्व करता है, जिसकी 10 भुजाएँ हैं, जिसमें दो अन्य आठ की अपेक्षा दोगुनी लंबी हैं। इसका नाम अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के नाम पर रखा गया है।

3. नदी वनरोपण योजना के लिए केंद्र ने ₹19,000 करोड़ की शुरूआत की।

विस्तार:- पर्यावरण और जल शक्ति मंत्रालयों के अधिकारियों ने सोमवार को एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि केंद्र ने पेड़ लगाकर 13 प्रमुख नदियों को फिर से जीवंत करने के लिए 19,000 करोड़ रुपये की परियोजना की परिकल्पना की है।

इन ‘वानिकी’ हस्तक्षेपों से संचयी वन क्षेत्र में 7,417.36 वर्ग किमी की वृद्धि होने की उम्मीद है। इन 13 नदियों के आसपास के क्षेत्र में और 50.21 मिलियन टन CO2- 10-वर्षीय वृक्षारोपण के बराबर और 74.76 मिलियन टन CO2- 20-वर्षीय वृक्षारोपण के बराबर रोकेगा।

यह भी पढ़ें:-

रूस-यूक्रेन संकट से Semiconductor(अर्धचालकों) की कमी क्यों हो सकती है?

अफ्रीका में खोजे गए प्राचीन DNA से मानव प्रवास की का पता चलता है, जानिए क्या है रिसर्च

वे भूजल पुनर्भरण में मदद करेंगे, अवसादन को कम करेंगे, गैर-लकड़ी और अन्य वन उपज से 449.01 करोड़ उत्पन्न करेंगे और साथ ही 344 मिलियन मानव-दिवस का रोजगार प्रदान करेंगे।
नदियां:- झेलम, चिनाब, रावी, ब्यास, सतलुज, यमुना, ब्रह्मपुत्र, लूनी, नर्मदा, गोदावरी, महानदी, कृष्णा और कावेरी नदियां राष्ट्रीय वनीकरण और पर्यावरण विकास बोर्ड, (एमओईएफ और सीसी) द्वारा वित्त पोषित हैं।

दोनों मंत्रालयों ने भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद, देहरादून, (आईसीएफआरई) द्वारा तैयार की गई इन नदियों में से प्रत्येक के लिए कई विशाल विस्तृत परियोजना रिपोर्ट सार्वजनिक कीं।

13 नदियाँ सामूहिक रूप से 18,90,110 वर्ग किमी के एक बेसिन क्षेत्र को कवर करती हैं। या भौगोलिक क्षेत्र का लगभग 57.45%। चित्रित परिवेश के भीतर 202 सहायक नदियों सहित उनकी लंबाई 42,830 किमी है।

4. एम.एस. स्वामीनाथन रिसर्च फाउंडेशन की अध्यक्ष मीणा स्वामीनाथन का देहांत

अभी हाल ही में मीना स्वामीनाथन, विशिष्ट अध्यक्ष, लिंग और विकास, एम.एस. स्वामीनाथन रिसर्च फाउंडेशन (MSSRF), का सोमवार सुबह तेनामपेट में उनके घर में निधन हो गया। वह 88 वर्ष की थीं। एमएसएसआरएफ के एक सूत्र ने बताया कि उनकी मौत प्राकृतिक कारणों से हुई थी।

5. भारत के मातृ मृत्यु अनुपात में आयी गिरावट

भारत के महापंजीयक द्वारा जारी एक विशेष बुलेटिन के अनुसार भारत के मातृ मृत्यु अनुपात (MMR) में 10 अंकों की गिरावट आई है। यह 2016-18 में 113 से घटकर 2017-18 में 103 (8.8% गिरावट) हो गई है। सोमवार को जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि देश में एमएमआर में 2014-2016 में 130, 2015-17 में 122, 2016-18 में 113 और 2017-19 में 103 में प्रगतिशील कमी देखी गई थी।

इस लगातार गिरावट के साथ, भारत 2020 तक 100/लाख जीवित जन्मों के राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति (एनएचपी) लक्ष्य को प्राप्त करने के कगार पर था और निश्चित रूप से 2030 तक 70/लाख जीवित जन्मों के सतत विकास लक्ष्य (एसडीजी) लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए ट्रैक पर था। , यह नोट किया।

एसडीजी(SDG) लक्ष्य हासिल करने वाले राज्यों की संख्या अब पांच से बढ़कर सात हो गई है – केरल (30), महाराष्ट्र (38), तेलंगाना (56), तमिलनाडु (58), आंध्र प्रदेश (58), झारखंड (61) , और गुजरात (70)। अब नौ राज्य हैं जिन्होंने एनएचपी द्वारा निर्धारित एमएमआर लक्ष्य हासिल कर लिया है, जिसमें उपरोक्त सात और कर्नाटक (83) और हरियाणा (96) शामिल हैं।

6. एन. चंद्रशेखरन एयर इंडिया का के अध्यक्ष नियुक्त

विमानन उद्योग के सूत्रों ने सोमवार को कहा कि टाटा संस के अध्यक्ष एन. चंद्रशेखरन को एयरलाइन के बोर्ड ने एयर इंडिया का अध्यक्ष नियुक्त किया है। साल्ट-टू-सॉफ्टवेयर समूह टाटा समूह ने पिछले साल 8 अक्टूबर को कर्ज में डूबी सरकारी एयर इंडिया के अधिग्रहण के लिए 18,000 करोड़ रुपये की पेशकश की थी। श्री एन. चंद्रशेखरन की एयरलाइन के अध्यक्ष के रूप में नियुक्ति को पिछले सप्ताह इसके बोर्ड ने मंजूरी दे दी थी।

7. अदावी ब्रांड

केरल में ‘नीलांबुर’ कस्बे के वन उत्पादों का एक नया ब्रांड लॉन्च किया गया है। जंगली शहद सहित नीलांबुर के आदिवासियों द्वारा एकत्र की जाने वाली लघु वनोपज अब ‘अदावी ब्रांड’ के तहत बेंचे जाएंगे। जन शिक्षण संस्थान (JSS) और नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट (NABARD) द्वारा संयुक्त रूप से नीलांबुर में आयोजित एक आदिवासी उत्सव में ‘अदावी ब्रांड’ को लॉन्च किया गया।

अदावी ब्रांड ‘जन शिक्षण संस्थान’ और नाबार्ड द्वारा कार्यान्वित गोत्रमृत परियोजना का एक हिस्सा था। पहले चरण के तहत शुद्ध जंगली शहद के अलावा जंगली शतावरी, आँवले के विभिन्न प्रकार के अचार और आम को भी अदावी ब्रांड के तहत बढ़ावा दिया जाएगा। नीलांबुर कस्बे के आदिवासियों द्वारा गठित ‘गोत्रमृत सोसाइटी’ इन उत्पादों की बिक्री का नेतृत्व करेगी। नई योजना में ‘अदावी उत्पादों’ के लिये बेहतर एवं व्यापक बाज़ारों, विशेष रूप से विदेशी बाज़ारों की परिकल्पना की गई है।

8. केरल में IT कॉरिडोर

कोविड-19 महामारी के बाद आर्थिक रिकवरी सुनिश्चित करने हेतु सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की क्षमता का दोहन करने के लिये केरल के वित्त मंत्री के.एन. बालगोपाल ने राज्य के हालिया बजट के दौरान एक नया आईटी पार्क, चार आईटी कॉरिडोर और 20 उपग्रह आईटी हब स्थापित करने का प्रस्ताव रखा।

राष्ट्रीय राजमार्ग-66 के साथ स्थापित होने वाला यह कॉरिडोर बड़े खरीदारी क्षेत्रों, मनोरंजक सुविधाओं और नाइटलाइफ सुविधाओं सहित प्रमुख बुनियादी परियोजनाओं को बढ़ावा देगा। नया आईटी पार्क कन्नूर ज़िले में स्थापित किया जाएगा जिससे इस क्षेत्र के विकास में तेज़ी आएगी।

9. ‘युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम’

16 मई से 28 मई तक युविका-2022 आवासीय कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। ‘युवा वैज्ञानिक कार्यक्रम’ जिसे ‘युविका’ (YUVIKA) के नाम से भी जाना जाता है, इसरो द्वारा प्रायोजित और भारत के अंतरिक्ष विभाग द्वारा वित्तपोषित एक वार्षिक अंतरिक्ष शिक्षा एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम है। इसरो के पूर्व प्रमुख के. सिवन ने 18 जनवरी, 2019 को इस कार्यक्रम की घोषणा की और इसे चार महीने बाद 17 मई को लॉन्च किया गया।

इस कार्यक्रम का उद्देश्य युवाओं में अंतरिक्ष विज्ञान के प्रति रुचि विकसित करना और उनका पोषण करना है। मुख्य रूप से अंतरिक्ष के उभरते क्षेत्र में रुचि जगाने के इरादे से युवाओं को अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी, अंतरिक्ष विज्ञान और अंतरिक्ष अनुप्रयोगों पर मूलभूत ज्ञान प्रदान करना है। इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिये हर साल प्रत्येक राज्य/केंद्रशासित प्रदेश से 3 छात्रों का चयन किया जाना प्रस्तावित है।

इसमें ऐसे राज्य शामिल होंगे जो CBSE, ICSE और राज्य के पाठ्यक्रम को कवर करते हैं। 8वीं कक्षा में उत्तीर्ण तथा वर्तमान में 9वीं कक्षा में पढ़ रहे छात्र इस कार्यक्रम के लिये पात्र होंगे। इसरो भारत की अग्रणी अंतरिक्ष अन्वेषण एजेंसी है, जिसका मुख्यालय बंगलूरू में है।

10. कैटलिन नोवाक हंगरी की पहली महिला राष्ट्रपति

प्रधानमंत्री विक्टर ओरबान की करीबी सहयोगी कैटलिन नोवाक को हंगरी की संसद द्वारा हंगरी की पहली महिला राष्ट्रपति के रूप में चुना गया है। नोवाक, जो हाल ही में परिवार नीति मंत्री थीं, ने अपनी जीत को महिलाओं की जीत बताया। उन्होंने संसद में 137 मत हासिल किये।

नोवाक, ओर्बन की सत्तारूढ़ फ़ाइड्ज़ पार्टी (Fidesz Party) के सह-संस्थापक जानोस एडर (Janos Ader) का स्थान लेंगी, जिन्होंने वर्ष 2012 से प्रधानमंत्री के रूप में कार्य किया है। ज्ञात हो कि हंगरी यूरोप में स्थित यूरोपीय संघ का एक सदस्य देश है। यहाँ की राजधानी ‘बुडापेस्ट’ है। हंगरी मध्य यूरोप की डैन्यूब नदी के मैदान में स्थित है।

इसके उत्तर में चेकोस्लोवाकिया, पूर्व में रोमानिया, दक्षिण में यूगोस्लाविया तथा पश्चिम में ऑस्ट्रिया है। इस देश में समुद्र तट नहीं है। यह आल्प्स पर्वत श्रेणियों से घिरा है। यहाँ कार्पेथिऐन पर्वत भी है, जो मैदान को लघु एल्फोल्ड और विशाल एल्फोल्ड नामक भागों में विभक्त करता है।

इन्हे भी देखें:-

9 मार्च 2022 से जुड़े सभी Current Affairs- Current Affairs Today

‘मानवीय गलियारे'(Humanitarian Corridors) क्या होते है, यह क्यों हैं चर्चा का विषय


Spread the love

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.