9 मार्च 2022 से जुड़े सभी Current Affairs- Current Affairs Today

Spread the love

चंद्रयान-2 ने चन्द्रमा पर आर्गन -40 का पता लगाया- Current Affairs

विस्तार:- भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन(ISRO) ने चंद्रयान -2 मिशन पर एक चौगुनी मास स्पेक्ट्रोमीटर, चंद्रा के वायुमंडलीय संरचना एक्सप्लोरर -2 (CHACE-2) ने कमजोर चंद्र एक्सोस्फीयर में आर्गन -40 के वैश्विक वितरण का अपनी तरह का पहला अवलोकन(पता लगाया) किया है।

बेंगलुरु मुख्यालय वाली अंतरिक्ष एजेंसी ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि ये अवलोकन चंद्र एक्सोस्फेरिक प्रजातियों की गतिशीलता के साथ-साथ चंद्र सतह के पहले कुछ दसियों मीटर नीचे रेडियोजेनिक गतिविधियों पर अंतर्दृष्टि प्रदान करते हैं।

प्रोफेसर दीपक धर और जॉन जे. होपफील्ड को बोल्ट्जमान पदक के लिए चुना गया

विस्तार:- इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च, पुणे के भौतिक विज्ञानी दीपक धर को इंटरनेशनल यूनियन ऑफ प्योर एंड एप्लाइड फिजिक्स के सांख्यिकीय भौतिकी आयोग (C3) द्वारा सम्मानित बोल्ट्जमैन पदक के लिए चुना गया है। वह इस पुरस्कार को जीतने वाले पहले भारतीय बने, जिसकी शुरुआत 1975 में नोबेल पुरस्कार विजेता (1982) के.जी. विल्सन पहले प्राप्तकर्ता थे।

इनके साथ ही यह पुरष्कार John J. Hopefield को भी दिया जायेगा। वह अमेरिकी वैज्ञानिक जॉन जे होपफील्ड के साथ मंच साझा करते हैं, जो एक सहयोगी तंत्रिका नेटवर्क के आविष्कार के लिए जाने जाते हैं, जिसे अब उनके नाम पर रखा गया है। पुरस्कार में लुडविग बोल्ट्जमैन के शिलालेख के साथ सोने का पानी चढ़ा हुआ बोल्ट्जमैन पदक शामिल है, और चुने हुए दो वैज्ञानिकों को टोक्यो में 7-11 अगस्त, 2023 को आयोजित होने वाले स्टेटफिज 28 सम्मेलन में पदक प्रदान किए जाएंगे।

‘मानवीय गलियारे'(Humanitarian Corridors) क्या होते है, यह क्यों हैं चर्चा का विषय

8 मार्च 2022 से जुड़े सभी Current Affairs- Current Affairs Today

मुंबई नगर निगम को चलाने के लिए एक प्रशासक की नियुक्ति

विस्तार:- लगभग चार दशकों के बाद, मंगलवार से, देश के सबसे बड़े नागरिक निगमों में से एक, बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) एक प्रशासक द्वारा चलाया जाएगा। महाराष्ट्र कैबिनेट ने 9 फरवरी को मुंबई नगर निगम (एमएमसी) अधिनियम में संशोधन करने और बीएमसी के लिए एक प्रशासक नियुक्त करने का निर्णय लिया था। नियुक्त प्रशासक वर्तमान नगर आयुक्त, आईएस चहल हैं।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

विस्तार:- संपूर्ण मानव जाति के विकास में महिलाओं की भूमिका को रेखांकित करने हेतु प्रत्येक वर्ष 08 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आयोजन किया जाता है। यह दिवस लोगों को यह जानने का अवसर प्रदान करता है कि मानव जाति के विकास के लिये अभी बहुत कुछ किया जाना शेष है और महिलाओं की समान भागीदारी के बिना इसे प्राप्त नहीं किया जा सकता है।

थीम:- अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की इस वर्ष की थीम है- जेंडर इक्वालिटी टुडे फॉर ए सस्टेनेबल टुमारो यानी मज़बूत भविष्य के लिये लैंगिक समानता ज़रूरी है।

उद्देश्य:- विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं के प्रति सम्मान प्रदर्शित करने के उद्देश्य से इस दिवस को महिलाओं के आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक उपलब्धियों के उत्सव के तौर पर मनाया जाता है।

इतिहास:- दरअसल वर्ष 1908 के आसपास महिलाओं के बीच उनके उत्पीड़न एवं असमानता के विषय को लेकर गंभीर बहस शुरू हुई तथा बदलाव की मुहिम तब और मुखर होने लगी जब 15000 से अधिक महिलाओं ने काम की कम अवधि, बेहतर भुगतान व मतदान के अधिकार को लेकर न्यूयॉर्क शहर से मार्च किया।

28 फरवरी, 1909 को संयुक्त राज्य अमेरिका में पहला राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। वर्ष 1911 में कोपेनहेगन में कामकाजी महिलाओं का अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया और इसी सम्मेलन के दौरान जर्मनी की सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी की महिला नेत्री क्लारा ज़ेटकिन द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के आयोजन का सुझाव प्रस्तुत किया गया था। संयुक्त राष्ट्र द्वारा पहली बार अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आयोजन वर्ष 1975 में किया गया था।

‘वायु शक्ति’ युद्धाभ्यास स्थगित

यूक्रेन में गहराते संकट के बीच भारतीय वायु सेना (IAF) ने अपने अभ्यास- ‘वायु शक्ति’ को स्थगित करने का फैसला किया है। यह अभ्यास राजस्थान के पोखरण पर्वतमाला में आयोजित किया जाना था। वायु शक्ति का अंतिम संस्करण फरवरी 2019 में आयोजित किया गया था।

इस युद्धाभ्यास के बारे में:-

यह प्रति तीन वर्ष में एक बार आयोजित होने वाला त्रैवार्षिक अभ्यास है। इसका उद्देश्य पूर्ण स्पेक्ट्रम संचालन के लिये भारतीय वायुसेना की क्षमता का प्रदर्शन करना है और विमान एवं हेलीकॉप्टर, परिवहन विमान एवं मानव रहित हवाई वाहनों की भागीदारी प्रदर्शित करना है।

  • IAF इन्वेंट्री में शामिल फ्रंटलाइन एयरक्राफ्ट हैं:
  • रूसी एसयू-30एमकेआई और मिग-29यूपीजी लड़ाकू विमान
  • फ्रेंच राफेल और मिराज 2000
  • अमेरिकी C-130 और C-17 परिवहन विमान, AH-64E अपाचे हेलीकॉप्टर और CH-47F चिनूक हेलीकॉप्टर
  • स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान (तेजस), उन्नत हल्के हेलीकॉप्टर (ध्रुव) और हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर।

इन्हे भी देखें:-

स्वचालित ट्रेन सुरक्षा प्रणाली ‘Kavach’ क्या है, और क्यों है चर्चा में

Haryana Govt. Anti Conversion Bill क्या हैं?, इसके प्रावधान और विपक्ष की आपत्तियां


Spread the love

Manish Kushwaha

Hello Visitor, मेरा नाम मनीष कुशवाहा है। मैं एक फुल टाइम ब्लॉगर हूँ, मैंने कंप्यूटर इंजीनियरिंग से डिप्लोमा किया है और मैंने BA गोरखपुर यूनिवर्सिटी से किया है। मैं Knowledgehubnow.com वेबसाइट का Owner हूँ, मैंने इस वेबसाइट को उन लोगो के लिए बनाया है, जो कम्पटीशन एग्जाम की तैयारी करते है और करंट अफेयर, न्यूज़, एजुकेशन से जुड़े आर्टिकल पढ़ना चाहते हैं। अगर आप एक स्टूडेंट हैं, तो इस वेबसाइट को सब्सक्राइब जरूर करें।
View All Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.