आसमान में चलता फिरता PM नरेंद्र मोदी का अभेद किला एयर इंडिया वन

Spread the love

 PM नरेंद्र मोदी का अभेद किला एयर इंडिया वन
PM नरेंद्र मोदी का अभेद किला एयर इंडिया वन
 

PM नरेंद्र मोदी का अभेद किला एयर इंडिया वन:-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी lockdown के बाद अमेरिका दौरे पर गए है जिनमे उनकी “एयर इंडिया वन”(Air India One) विमान  से यह दूसरी यात्रा है।  इससे पहले वे इस विमान से बांग्लादेश के दौरे पर गए थे। 

इस विमान को अमेरिकी कंपनी बोईंग द्वारा बनाया गया एक VVIP विमान है जो बहुत सी आधुनिक खूबियों से लैस है।  भारत के राष्ट्रपति,उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के द्वारा उनके अंतराष्ट्रीय और राष्ट्रीय दौरे पर जाने के लिए बोईंग 777 का उपयोग किया जायेगा इससे पहले बोईंग 747 का प्रयोग किया जाता था

जिसको हटाने की मांग काफी समय से चल रही थी। विमान मूल रूप से एयर इंडिया के स्वामित्व में था, और इसे भारतीय वायु सेना (IAF) को सौंप दिया गया है, जो इसका उपयोग प्रधान मंत्री, राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति को फेरी लगाने के लिए करेगा। नए विमान का नाम  “एयर इंडिया वन” है।

ये एक जैसे विमानों की एक जोड़ी हैं जिन्हें संशोधित किया गया है जिनकी कीमत लगभग 8,400 करोड़ रुपये है। इस विमान का कण्ट्रोल इंडियन एयरफोर्स के द्वारा किया जायेगा।

इसी प्रकार के विमान का प्रयोग अमेरिका के राष्ट्रपति द्वारा किया जाता है जो काफी सुरक्षित माना जाता है,जिसे एयरफोर्स वन के नाम से जाना जाता है। 

इन्हे भी पढ़ें:-

आधुनिक भारत के प्रसिद्ध वैज्ञानिक जगदीश चंद्र बोस और उनके योगदान 

आइये जानते है एयर इंडिया वन की खूबियां:-

 
एयर इंडिया वन विमान काफी शक्तिशाली होगी इस पर किसी भी प्रकार की मिसाइल और बमो का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा यह विमान किसी भी मिसाइल को उसके रास्ते से भटका सकते है जिससे उस मिसाइल का अटैक विमान पर नहीं होगा। यह विमान जरुरत पड़ने पर दुसमन पे हमला भी कर सकता है।
इस विमान में नरेंद्र मोदी अपनी सारेऑफिस के काम कर सकते है और वही से बैठे अपने देश पे नजर रखके सारे निर्णय ले सकते है। इस विमान में हवा में उड़ते हुए ही ईंधन भरा जा सकता है और एक बार फ्यूल भर देने के बाद बिना रुके बहुत ज्यादा दुरी तक उड़ान (करीब 17 घंटे)भरा जा सकता है।
अभी हाल ही में नरेंद्र मोदी द्वारा भारत से अमेरिका तक बिना रुके उड़ान भरा गया है। इस विमान के अगले हिस्से में EW जैमर लगा है. ये रडार दुश्मन के सिग्नल को पूरी तरह जाम कर सकता है. इसके साथ ही यह इलेक्ट्रॉनिक सिग्नल को जाम कर देता है, जिससे अगर इसके ऊपर मिसाइल फायर की गयी है तो उसे टारगेट नहीं मिल पाता। इस जैमर को मिसाइल की जानकारी देता है। …….Join Telegram
विमान के पिछले हिस्से में लगा मिसाइल अप्रोच सिस्टम, जैसे ही इसके ऊपर कोई मिसाइल फायर होती है, ये फौरन अलर्ट कर देता है. इसके साथ ही ये मिसाइल कितनी दूर है, कितनी स्पीड से आ रही है, और कितनी ऊंचाई पर ही इसकी भी जानकारी देता है। 
इस विमान में सबसे आधुनिक और सिक्योर सैटेलाइट कम्यूनिकेशन सिस्टम भी लगा है। इससे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ना सिर्फ ग्राउंड पर संपर्क में रह सकते हैं बल्कि दुनिया के किसी भी कोने में बातचीत कर सकते हैं. बेहद सुरक्षित होने से उनकी बातचीत को टेप भी नहीं किया जा सकता.
पीएम और राष्ट्रपति के लिए ऐसे दो विमान लिए गए हैं. इनमें से एक विमान अगले महीने ही डिलिवर होने वाला है. इसे एयरफोर्स के पायलट उड़ाएंगे और इसका कॉल साइन इंडियन एयरफोर्स वन रखा जा सकता है। इस मोडिफाइड विमान पर हिंदी में भारत और अंग्रेज़ी में इंडिया लिखा हुआ है।
अशोक चक्र के साथ ही विमान पर तिरंगा भी उकेरा गया है।  विमान के भीतर ऑनबोर्ड तमाम सुविधाएं, मीटिंग कक्ष, कॉन्फ्रेंस कैबिन, प्रैस ब्रीफिंग रूम, सुरक्षित वीडियो टेलीफोनी और साउंड प्रूफ इंतज़ामों के साथ फाइव स्टार सुविधाएं हैं. इस विमान की स्पीड करीब 900 किलोमीटर प्रतिघंटा तक होगी। 

इन्हे भी पढ़ें:-

संस्कृति क्या है?,संस्कृति के गुण और विशेषताएं क्या हैं


Spread the love

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.