आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है और यह कितने प्रकार का होता है?- Artificial intelligence

Spread the love

 आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(AI)
Artificial Inteligence(AI)

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(AI) या कृत्रिम बुद्धिमत्ता एक ऐसा सिमुलेशन है जिससे मशीनों को इंसाने ज्ञान दिया जाता है । अन्य शब्दों में कहें तो उनके दिमाग को इतना उन्नत किया जाता है कि वह इंसानों की तरह सोच सके और काम कर सके।

कृत्रिम बुद्धिमत्ता प्रक्रिया में मुख्यतः तीन कार्य विधियां शामिल हैं लर्निंग, रिजनिंग तथा सेल्फ करेक्शन । आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बारे में सर्वप्रथम अमेरिकी कंप्यूटर साइंटिस्ट जॉन मैकार्थी द्वारा जानकारी दी गई थी।

मैंकार्थी ने वर्ष 1956 में डॉर्टमाउथ कॉन्फ्रेंस में इसके बारे में बताया। Artificial Inteligence(AI) मूल रूप से कंप्यूटर साइंस की शाखा है जिसका मुख्य कार्य मनुष्य के जैसे बुद्धिमान मशीन बनाना है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रकार: –

Artificial Intelligence मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं।

1. दुर्बल आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (Weak AI):- इस प्रकार की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को नेहरू आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कहा जाता है इसमें कृत्रिम बुद्धिमत्ता सिस्टम को कुछ इस प्रकार से डिजाइन किया जाता है कि यह केवल एक विशेष कार्य ही कर सकते हैं एप्पल का सिस्टम सॉफ्टवेयर दुर्बल Artificial Inteligence(AI) का सबसे बढ़िया उदाहरण है।

2. सबल आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (Strong AI):- इस प्रकार के आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को ‘जनरल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस’ भी कहा जाता है इस प्रकार के Artificial Inteligence(AI) सिस्टम में सामान्यकृत मनुष्य की बुद्धिमत्ता होती है। जिससे कि ये समय आने पर अगर इसे कोई कठिन या कार्य दिया जाए तो यह आसानी से उसका हल निकाल सकता है।

यह भी पढ़ें:-क्या अब चीन जैविक हथियारों से करेगा युद्ध ,तेजी से जैविक हथियार बनाने में लगा हुआ है चीन

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रयोग: –

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस विभिन्न क्षेत्रों में कार्य करने के लिए हिसाब से कई प्रकार से प्रयोग किया जाता हैं।

1. स्वास्थ्य देखभाल में:- आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का सबसे अच्छा प्रयोग स्वास्थ्य देखभाल उद्योग में होता है यहां सबसे बड़ा चैलेंज यह है कि कैसे हम मरीजों का बेहतर इलाज कर सके औरवो भी कम लागत में।

2. ब्यापार में:- रोबोटिक प्रोसेस ऑटोमेशन की सहायता से अब अत्यधिक दोहरा वाले कार्यों को मशीनों द्वारा किया जा सकता है । मशीन लर्निंग एल्गोरिथम को अब एनालिटिक्स और सीआरएम प्लेटफार्म के साथ एकीकृत किया जा रहा है।

3. शिक्षा में :- कृत्रिम बुद्धिमत्ता की सहायता से अब ऑटोमेट ग्रेडिंग किया जा सकता है। इससे शिक्षकों को बच्चों को समझने में ज्यादा समय मिल सकेगा। एआई की सहायता से किसी भी छात्र को अच्छी तरह से निरीक्षण किया जा सकता है।……Join Telegram

4.वित्तीय क्षेत्र में:- आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की सहायता से वित्तीय संस्थानों को काफी लाभ मिल रहा है। पहले कंपनियों को डेटा विश्लेषण में अधिक धन और समय लगाना पड़ता था। परंतु अब Artificial Inteligence(AI) से यह सब कुछ बहुत ही कम समय में हो जाता है।

5. विनिर्माण क्षेत्र में:- Artificial Inteligence का विनिर्माण उद्योग में भी खूब प्रयोग हो रहा है। पहले जिस काम के लिए सैकड़ों लोगों की जरूरत होती थी। अब वह एक मशीन की सहायता से ही बहुत कम समय में और बेहतर तरीके से हो रहा है।

इन्हे भी देखें:-

अब कॉर्बन को पकड़कर वातावरण को साफ करेंगे गुब्बारे,इजरायली स्टार्टअप ने कार्बन पर कब्जा करने के लिए गुब्बारे विकसित किए

 


Spread the love

Manish Kushwaha

Hello Visitor, मेरा नाम मनीष कुशवाहा है। मैं एक फुल टाइम ब्लॉगर हूँ, मैंने कंप्यूटर इंजीनियरिंग से डिप्लोमा किया है और मैंने BA गोरखपुर यूनिवर्सिटी से किया है। मैं Knowledgehubnow.com वेबसाइट का Owner हूँ, मैंने इस वेबसाइट को उन लोगो के लिए बनाया है, जो कम्पटीशन एग्जाम की तैयारी करते है और करंट अफेयर, न्यूज़, एजुकेशन से जुड़े आर्टिकल पढ़ना चाहते हैं। अगर आप एक स्टूडेंट हैं, तो इस वेबसाइट को सब्सक्राइब जरूर करें।
View All Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.